स्टार्टअप पर धारा 80IAC के तहत कटौती

0
235
Print Friendly, PDF & Email

धारा 80IAC के तहत कौन कटौती का दवा कर सकता है ?

केवल योग्य स्टार्टअप ही कटौती का दावा कर सकते हैं।

‘योग्य स्टार्टअप्स’ किसे कहा जाता है ?

ऐसा स्टार्टअप जो कंपनी हो या ल.ल.प  हो और जो निम्नलिखित चीजों को अपने व्यवसाय में लगाता हो  :
* नवाचार,
* विकास,
* तैनाती या नए उत्पादों के व्यावसायीकरण,
* प्रक्रियाए या
* प्रौद्योगिकी या बौद्धिक संपदा द्वारा संचालित सेवाएं

यही बात है न या कोई और भी शर्ते  है ?

हाँ , कंपनी या एलएलपी को नीचे दी गई निम्नालिखित शर्तों को पूरा करना होगा:
१) 1 अप्रैल 2016 से 31 मार्च 201 9 के बीच इनका गठन होना चाहिए
२) वित्त वर्ष 2016-17 से वित्त वर्ष 2020-21 तक अपने व्यापार का कुल बिक्री २५ करोड़ से काम हो
३) इसे इंटर-मिनिस्टरी बोर्ड ऑफ सर्टिफिकेशन से प्रमाण पत्र  प्राप्त हुआ हो ।

धारा 80IAC के तहत स्टार्टअप्स के लिए कितना कटौती मिलती है ?

स्टार्टअप को १००% छूट मिलता है। इसे ३ लगातार वर्षो तक लेना पड़ता है और इन ३ लगातार वर्षो का चुनाव आप किसी भी ७ वर्षो में से कर सकते है।

किस प्रकार के स्टार्टअप्स धारा 80IAC के तहत कटौती का दावा नहीं कर सकते है ?

निम्नलिखित प्रकार के स्टार्टअप्स कटौती का दवा नहीं कर सकते

१) अगर स्टार्टअप का गठन पहले से गठित व्यवसाय को पुनर्गठित कर के किआ गया हो l

इस नियम का अपवाद ऐसे स्टार्टअप है जो आयकर अधिनियम की धारा ३३ बी के तहत गठित किए गये हो l

२) अगर स्टार्टअप का गठन  पहले से इस्तेमाल हुई मशीनरी या संयंत्र के हस्तांतरण द्वारा गठित हो।

हालाँकि ,धारा 80IAC के तहत छूट ऐसे स्टार्टअप्स को मिल सकता है,   जिनका निर्माण भारत के बहार प्रयोग की जाने वाले मशीनरी के द्वारा होती है और अगर निम्नांकित शर्तो को पूरा किया गया हो :
१) उस निर्धारिती द्वारा भारत में संयंत्र और मशीनरी का उपयोग नहीं किया गया था
२) संयंत्र और मशीनरी का आयात किया जाता है।
३) इस पर मूल्यह्रास का दावा किया गया था।